सुपौल जिले के रामद्दतपट्टी में लॉक डाउन बेअसर-आंचलिक ख़बरें-नजीर आलम के साथ राहुल झा

0
12

दुनिया में लोग क्रोना नामक महामारी से जिन्दगी की जंग लड़ रहे हैं भारत के प्रधान मंत्री बार बार देश को संबोधित कर इस महामारी से बचाव के लिए फिलहाल सोशल डिस् टेंसी मेनटेन करने व अपने अपने घरों में ही रहने की अपील कर रहे हैं ।सम्पूर्ण देश पूर्णतः लॉक डाउन है राज्य व जिला स्तर पे भी लॉक डाउन को बरकरार रखने के लिए जिला प्रशाशन सरको पे प्रचार परशार व चेकिंग अभियान चला कर जागरूकता फैलाने और लोगो को अपने अपने घरों में रहने की अपील कर रही है ।वही बिहार के सुपौल जिला मुख्यालय से सटे रामदत्तपट्टी पंचायत में लॉक डाउन पूर्णतः बिफल है ।एक समाजसेवी के आग्रह पे जब हमारी टीम रामदतपट्टी पहुँची तो ।चौक चौराहे पे सामान्य रूप से सैकड़ो की भीड़ भाड़ व पान दुकान चाय दुकान कपड़े की दुकान टेलर हाडवेयर सामान्य रूप से खुले हुए देखे गए । वहाँ की तस्वीर अपनी कहानी खुद बयान कर रही थी ।उन्होंने हमें बताया के इस इलाके के जियादहतर मर्द देहली पंजाब व महाराष्ट में रोजी रोटी करते है अभी के इस हालत में सैकड़ो की संख्या में लोग अन्य राज्यो से अपने गाँव लौटे है जिनका कोई भी टेस्ट नही हुआ है ऐसे लोग सामान्य रूप से चौक चौराहो पे अपना समय बिता रहे हैं ।जो चिंता का विषय है ।साथ ही आम लोग भी लॉक डाउन का मजाक बना रहे हैं ।सुनिए समाजसेबी अनवार आलम ने काय कहा ।

तो सुना आपने अनवार आलम ने कय कहा ।इनसे बात करने के बाद हमने रामदतपट्टी के मुखिया जो उसी भीड़ भाड़ में मुँह में गिलोरी पान चबाये ।घूम रहे थे उनकी भी इस परिस्थिति पे राय मांगी सुनिय कय कहा मुखिया जी ने ।
तो देखा आपने इस चौक का नज़ारा और मुखिया जी की बाते ।आइये सुनाते हैं आपको आज के चेकिंग व जागरूक अभियान के दरमियान सिविल sdo ने कय कुछ कहा

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here