”पंच-ज“ जल, जंगल, जमीन, जन और जानवर के संतुलित पर्यावरणीय विकास की अवधारणा हेतु विधिक जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया-आँचलिक ख़बरें-राजेंद्र राठौर

0
8

 

माननीय प्रधान जिला न्यायाधीश/अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण झाबुआ श्रीमान मोहम्मद सैय्यदुल अबरार जी के निर्देशानुसार एवं अपर जिला न्यायाधीश/सचिव श्री लीलाधर सोलंकी जी की उपस्थिति में
मकर संक्रांति के अवसर पर स्थानीय सद्गुरू गौशाला झाबुआ में ”पंच-ज“ जल, जंगल, जमीन, जन और जानवर के संतुलित पर्यावरणीय विकास की अवधारणा हेतु विधिक जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। शिविर में अपर जिला न्यायाधीश/सचिव श्री लीलाधर सोलंकी जी एवं न्यायिक मजिस्ट्रेट श्री हर्ष ठाकुर एवं श्रीमति तनवी माहेश्वरी ठाकुर के द्वारा गायों को चारा, फल, रोटी खिलाये तथा गौशाला के पशु पालक गौ सेवकों को पशुओं की उचित देखभाल, उपचार पशुओं को समय-समय पर चारा, दाना, पानी की व्यवस्था करने के लिए सलाह एवं समझाईस दी गई।
पशुपालन विभाग द्वारा मुंह पका, खुर पका रोग निदान हेतु टीकारण करने एवं पशुओं की पहचान हेतु उनके कान पर 12 अंकों का टेग लगवाये आदि के प्रबंध करने बाबत् जागरूकता संदेश दिया गया। शिविर से लगभग 37 लोग लाभांवित हुये।शिविर में क्रूरता निवारण अधिनियम-1960 गौवंश प्रतिषेध अधिनियम-2004 पशु यातायात नियम 1978 आदि विधिक प्रावधानों की पशु पालकों को जानकारी दी गई।उक्त शिविर में अपर जिला न्यायाधीश/सचिव श्री लीलाधर सोलंकी, न्यायिक मजिस्ट्रेट श्री हर्ष ठाकुर, श्रीमति तनवी माहेश्वरी ठाकुर, पशुपालक श्री मनीष एवं गौशाला सेवक उपस्थित रहे।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here