कोरोना को लेकर एनसीएल जयंत प्रबंधन की व्यवस्था नाकाफ़ी-आंचलिक ख़बरें-अजय पांडेय

0
10

50 कर्मियों के लिए एक टिकिया साबुन

कार्यस्थल पर सेनेटाइजर नही,कर्मियों ने जतायी नाराजगी

सिंगरौली। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस से बचाव के लिए एक ओर देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और स्थानीय प्रशासन ने सतर्कता एवं एहतियात बरतने के लिये दिनरात एक कर दिये हैं।
वही एनसीएल के जयंत,अमलोरी,नीगाही,गोरबी मे कार्य कर रही हो ओबी कंपनियों के सभी परियोजना में कोरोना की सतर्कता बरतने के उपाय महज दिखावे के रह गए हैं। प्राप्त जानकारी के अनुसार दिनांक 23 मार्च से कोरोनावायरस पिन लॉक डाउन के बाद कंपनी कार्य करवा रही हैं जिसमें की उपयोग होने वाली बसों में कर्मियों व मजदूरों को भूसे जैसे भरा जा रहा है। एवं बसों के जरिए जाने वाले एनसीएल कर्मियों ने हमारे संवाददाता को बताया कि जयंत परियोजना प्रबंधन बेस वर्कशॉप और खदान में ड्यूटी जाने के लिए कर्मचारी बिना मास्क के तैयार है, बिजली उत्पादन के लिए कोयला सेक्टर को आवश्यक सेवा में रखा गया है।लेकिन प्रबंधन पर्याप्त इंतजाम नहीं कर रहा है। एक शिफ्ट बस में 50 से 55 सवारी भरकर जाने को मजबूर हैं। बसों को सेनेटाइजर से भी साफ नही किया गया है। यहा तक की न तो मशीनो को सेनेटाइज किया गया है। और दफ्तर या ड्यूटी स्थान पर सेनेटाइजर की व्यवस्था भी नहीं की गई है। 40 से 50 कर्मचारियों के बीच साबुन की महज एक ही टिकिया दे दी जाती है। जिसमे हाथ धोने से कई कर्मी परहेज करते रहते हैं। जिसमे कई लोग अपनी अपनी बारी आने का इंतज़ार करते रहते हैं। कोरोना के संक्रमण फैलने के एहतियातन बेस वर्कशॉप में मेंटनेंस के दौरान एक साथ कई कर्मचारियों को काम करना पड़ता है।इससे उनमें एक मीटर का फासला रखने के एहतियात बरतने में परेशानी हो रही है। प्रबंधन द्वारा सेफ्टी उपकरण देने में भी कोताही बरती जा रही है। जिससे कोयला कामगारों में संक्रमण को रोकने के उपायों में अनदेखी करने से नाराजगी का माहौल है। एनसीएल कर्मियों द्वारा समाचार के माध्यम से सिंगरौली के जिला प्रशासन और एनसीएल सीएमडी का भी ध्यानाकर्षण कराया है।

इनका कहना है
कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए जरूरी उपायों का इन्तजाम करने से बच रहे एनसीएल जयन्त,नीगाही,अमलोरी मे कार्यरत ठेका पर ओबी का कार्य करने वाली कंपनियां जिनके कर्मियों ने प्रबंधन से शीघ्र ही बात कर अवगत कराया। जिसके बाद प्रबंधन द्वारा संक्रमण रोकने हेतु उचित व्यवस्थाएं एवं जरूरी एहतियात बरतने के आदेश दिए गए।

राम विजय सिंह, पीआरओ एनसीएल

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here