भ्रष्टाचार के प्रति जीरो टॉलरेंस की नीति के विरुद्ध चकबंदी विभाग में हो रहा है जमकर भ्रष्टाचार-आंचलिक ख़बरें-दीपक कुमार

0
9

अधिकारी और कर्मचारी कर रहे हैं जनता का शोषण… प्रशासन और जनप्रतिनिधि मौन…
खबर उत्तर प्रदेश के अमरोहा से जहां तहसील बार ने की शीघ्र भृष्टाचार रोकने की मांग…
हसनपुर 29/09/22
तहसील बार एसोसिएशन हसनपुर के अध्यक्ष सुबोध कुमार के नेतृत्व में अधिवक्ताओं ने चकबंदी विभाग के अधिकारियों और सहायक चकबंदी अधिकारीयों के न्यायालयों और कार्यालयों में लंबित निर्विवादित नामांतरण वादों के समय पर निस्तारण ना होने से क्षुब्ध होकर चकबंदी अधिकारी के न्यायालय तक जुलूस निकालकर प्रदर्शन किया । जोरदार नारेबाजी करते हुए आज अधिवक्ताओं ने न्यायालय में बैठे चकबंदी अधिकारी से घोर भ्रष्टाचार और अनियमितताओं की शिकायत की और तुरंत काम बंद करने को कहा । परंतु एसीओ वार्ता करने नहीं आए । जिस पर अधिवक्ता उग्र हो गए । और आज से चकबंदी न्यायालयों का बहिष्कार करने का ऐलान कर दिया । पूर्व अध्यक्ष मुजाहिद चौधरी ने कहा कि भ्रष्टाचार के प्रति सरकार की जीरो टॉलरेंस नीति के विरुद्ध चकबंदी विभाग में भ्रष्टाचार चरम पर है । अधिकारी बेलगाम होकर जनता का शोषण कर रहे हैं । कुछ लोग दलालों और मध्यस्थ की भूमिका निभा कर गरीबों को न्याय से वंचित कर रहे हैं । अध्यक्ष सुबोध कुमार के अनुसार बंदोबस्त अधिकारी चकबंदी बंदोबस्त अधिकारी-अमरोहा, समस्त चकबंदी अधिकारी और सहायक चकबंदी अधिकारीगण को बार के साथ वार्ता करने हेतु दिनांक 03 अक्टूबर को बार भवन में बुलाया गया है । ताकि वादकारियों की समस्याओं का निराकरण हो सके और भ्रष्टाचार और अनियमितताओं पर कुछ अंकुश लग सके । इस अवसर पर अध्यक्ष सुबोध कुमार,
पूर्व अध्यक्ष मुजाहिद चौधरी व महिपाल सिंह,गजेन्द्र सिंह, शिवचरन सिंह, श्यौराज सिंह राणा,वीर सिंह, सुनील भटनागर, राजेंद्र सिंह,फतेह सिंह (कोषाध्यक्ष)नरेशपाल सिंह,विजेंद्र गहलोत, मेघराज सिंह,आफताब आलम,शेर सिंह भड़ाना, वीर सिंह त्यागी, पियूष शर्मा,सुरेश सैनी,जय प्रकाश सैनी,रमेश चंद्र, मौ यामीन,संजय कुमार, समरपाल सिंह,देवेंद्र शर्मा, सुरेन्द्र विधूड़ी आदि अधिवक्ता गण मौजूद रहे ।
सुबोध कुमार एडवोकेट
अध्यक्ष तहसील बार एसोसिएशन हसनपुर

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here