मुख्यमंत्री तीर्थयात्रा Yojana के तहत 90वीं ट्रेन रामेश्वरम के लिए रवाना

Aanchalik khabre
By Aanchalik khabre
7 Min Read
मुख्यमंत्री तीर्थयात्रा Yojana के तहत 90वीं ट्रेन रामेश्वरम के लिए रवाना

त्यागराज स्टेडियम में आयोजित भजन संध्या के दौरान राजस्व मंत्री आतिशी ने बुजुर्ग यात्रियों को टिकट और जरूरी सामग्री की किट सौंपा

मुख्यमंत्री तीर्थयात्रा Yojana के तहत सोमवार को 90वीं ट्रेन दिल्ली के 780 बुजुर्गों को लेकर रामेश्वरम के लिए रवाना हुई। इससे पहले, दिल्ली सरकार द्वारा तीर्थयात्रियों के लिए त्यागराज स्टेडियम में भजन संध्या का आयोजन किया गया, जहां जाकर दिल्ली की राजस्व मंत्री आतिशी ने तीर्थयात्रियों से मुलाकात की और उन्हें यात्रा टिकट और किट सौंपा।

आधुनिक युग के श्रवण कुमार सीएम अरविंद केजरीवाल अब 85 हजार से अधिक बुजुर्गों को तीर्थयात्रा करा चुके हैं

इस अवसर पर राजस्व मंत्री आतिशी ने कहा कि केजरीवाल सरकार ने तीर्थयात्रा Yojana के जरिए अब तक 89 ट्रेनों के जरिए 85 हजार से अधिक बुजुर्गों को देश के अलग-अलग तीर्थ स्थलों की यात्रा करा चुकी है और यह योजना आगे भी जारी रहेगी।
    मुख्यमंत्री तीर्थयात्रा Yojana के तहत 90वीं ट्रेन रामेश्वरम के लिए रवाना
त्यागराज स्टेडियम में आयोजित भक्ति संध्या कार्यक्रम के दौरान तीर्थयात्रियों को संबोधित करते हुए राजस्व मंत्री आतिशी ने कहा कि एक व्यक्ति अपना पूरा जीवन अपने परिवार की जिम्मेदारियों में खपा देता है। जब वह बुढ़ापे में प्रवेश करता है तो उसके मन में किसी तीर्थ स्थल का दर्शन करने की इच्छा होती है। हालांकि, कई बार लोगों के पास तीर्थयात्रा पर जाने के लिए समय का अभाव होता है तो कई बार साधन की कमी पड़ जाती है।
मुख्यमंत्री तीर्थयात्रा Yojana के तहत 90वीं ट्रेन रामेश्वरम के लिए रवाना
इसी को ध्यान में रखते हुए सीएम अरविंद केजरीवाल ने मुख्यमंत्री तीर्थयात्रा Yojana की शुरूआत की, ताकि हमारे बुर्जुग जीवन में कम से कम एक बार तीर्थयात्रा पर जा सकें। मेरा मानना है कि दिल्ली के बुजुर्ग भाग्यशाली हैं, क्योंकि उन्हें अरविंद केजरीवाल जैसा मुख्यमंत्री मिला है, जो हर बुजुर्ग का अपने माता-पिता की तरह ख्याल रखते हैं।
मुख्यमंत्री तीर्थयात्रा Yojana के तहत 90वीं ट्रेन रामेश्वरम के लिए रवाना
राजस्व मंत्री ने कहा कि अरविंद केजरीवाल श्रवण कुमार की तरह दिल्ली के बुजुर्गों का बेटा बनकर उनके लिए तीर्थयात्रा की व्यवस्था कर रहे हैं। मुझे खुशी है कि सीएम अरविंद केजरीवाल ने मुख्यमंत्री तीर्थयात्रा Yojana के तहत अब तक 89 ट्रेनों के जरिए 85 हजार से अधिक बुजुर्गों को तीर्थ यात्रा करा चुके हैं।
मुख्यमंत्री तीर्थयात्रा Yojana के तहत 90वीं ट्रेन रामेश्वरम के लिए रवाना
राजस्व मंत्री आतिशी ने कहा कि आज यह देखकर बहुत खुशी हो रही है कि हर बार की तरह इस बार भी तीर्थयात्रा पर जाने वाले बुजुर्गों में 80 फीसद से अधिक महिलाएं हैं। यह बहुत बड़ी बात है। क्योंकि, हमारे समाज में महिलाएं हमेशा अपने परिवार की जिम्मेदारियों को अपनी जरूरतों से ऊपर रखती हैं और अपना पूरा जीवन परिवार की सेवा में खपा देती हैं। यह हमारे लिए बहुत खुशी की बात है कि जिन माताओं ने अपना पूरा जीवन अपने परिवारों को समर्पित कर दिया, उन्हें जीवन के इस पड़ाव पर तीर्थयात्रा पर जाने का अवसर मिल रहा है।
राजस्व मंत्री आतिशी ने कहा कि सीएम अरविंद केजरीवाल ने मुख्यमंत्री तीर्थयात्रा Yojana द्वारा अब तक दिल्ली से 89 ट्रेनों के माध्यम से 85 हजार से अधिक बुजुर्गों को तीर्थयात्रा पर भेजा है। उन्होंने कई अड़चनों के बावजूद दिल्ली के बुजुर्गों की तीर्थयात्रा रुकने नहीं दी। सीएम अरविंद केजरीवाल चाहते हैं कि दिल्ली के हर बुजुर्ग को कम से कम एक बार तीर्थयात्रा का अवसर अवश्य मिले।

मुख्यमंत्री तीर्थयात्रा Yojana दिल्ली के बुजुर्गों को शांतिपूर्ण और भक्तिपूर्ण तीर्थयात्रा करने का अवसर प्रदान करती है

सभी तीर्थयात्रियों को तीर्थयात्रा शुरू करने से पहले भगवान का आशीर्वाद प्राप्त करने के लिए भक्ति संध्या का आयोजन किया गया। इससे तीर्थयात्रियों के बीच यात्रा के दौरान एक-दूसरे से मेल-जोल भी बढ़ेगा। इस कार्यक्रम का उद्देश्य भगवान के साथ गहरा संबंध स्थापित करना और इस पवित्र यात्रा के लिए आध्यात्मिक रूप से तैयार करना भी था। इस दौरान तीर्थयात्रियों को यात्रा टिकट और आवश्यक सामग्री की किट बांटी गई।
मुख्यमंत्री तीर्थयात्रा Yojana के तहत 90वीं ट्रेन रामेश्वरम के लिए रवाना
रामेश्वरम की यह यात्रा 8 दिनों में पूरी होगी। सफदरजंग रेलवे स्टेशन से ट्रेन रामेश्वरम के लिए रवाना हुई। दो दिन की यात्रा के बाद ट्रेन अगले दिन सुबह रामेश्वरम पहुंचेगी। सभी तीर्थयात्री रामेश्वरम मंदिर के दर्शन करेंगे और अगले दिन मीनाक्षी मंदिर के दर्शन करेंगे। मीनाक्षी मंदिर के दर्शन करने के बाद सभी तीर्थयात्री दिल्ली के लिए रवाना होंगे और ढाई दिन की यात्रा के बाद आठवें दिन दिल्ली आ जाएंगे।
राजस्व मंत्री आतिशी ने आगे कहा कि इस Yojana के तहत केजरीवाल सरकार यात्रियों को एसी ट्रेनों से भेजती है, एसी होटल में ठहराती है और भोजन की व्यवस्था करती है। साथ ही, यह सुनिश्चित करती है कि यात्रा के दौरान बुजुर्गों को किसी भी तरह की समस्या का सामना न करना पड़े। दिल्ली सरकार की एक टीम भी उनके साथ जाती है, ताकि जरूरत पड़ने पर बुजुर्ग तीर्थयात्रियों को जरूरत पड़ते पर सुविधाएं दी जा सके।

रामेश्वरम की यह यात्रा 8 दिन की होगी, जिसमें तीर्थयात्रियों को तीर्थ स्थलों के दर्शन कराए जाएंगे

मुख्यमंत्री तीर्थयात्रा Yojana के तहत दिल्ली सरकार अपने बुजुर्गों को रामेश्वरम, द्वारकाधीश, सोमनाथ, नागेश्वर, जगन्नाथ पुरी, उज्जैन में बाबा महाकाल, शिरडी साईं बाबा, तिरूपति बालाजी, अयोध्या, माता वैष्णो देवी, पुष्कर, फतेहपुर सीकरी, अमृतसर में स्वर्ण मंदिर, करतारपुर साहिब, मथुरा-वृंदावन और हरिद्वार समेत अन्य तीर्थ स्थलों पर यात्रा पर भेजती है।
90th train under Chief Minister Pilgrimage Scheme leaves for Rameshwaram
इस तीर्थयात्रा Yojana का लाभ लेने के लिए तीर्थयात्री ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से आवेदन करते हैं। दिल्ली सरकार तीर्थयात्रियों को घर से रेलवे स्टेशन तक लाने और यात्रा से वापस आने पर उनके घर तक पहुंचाने के लिए वाहन की व्यवस्था करती है। साथ ही, उनके रहने, खाने समेत यात्रा के दौरान तीर्थयात्रियों की सहूलितों और सुविधाओं का ख्याल रखती है। इस दौरान हर यात्री को आवश्यक सामग्री की एक किट भी दी जाती है।
Visit Our Social Media Pages
Share This Article
Leave a comment